क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की जीवनी : Sachin Tendulkar Biography In Hindi

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की जीवनी : Sachin Tendulkar Biography In Hindi

क्रिकेट का नाम सुनते ही हमारे मन में एक अलग सी कल्पनाएँ होने लगती है ! कभी वर्ल्डकप का ख्याल तो कभी इंडिया और पाकिस्तान का मैच और सचिन तेंदुलकर का नाम ! सचिन तेंदुलकर भारत की शान और क्रिकेट के ताज ! सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट के भगवान् भी कहा जाता है ! आइये जानते है सचिन तेंदुलकर के बारें में –

सचिन तेंदुलकर का जन्म :

सचिन तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 को राजापुर में हुआ , वो एक मराठी ब्राह्मण में जन्मे ! इनके पिता का नाम रमेश तेंदुलकर था ! उनके पिता ने सचिन तेंदुलकर का नाम अपने प्रिय संगीतकार सचिन देव बर्मन के नाम पर रखा था!

इसे भी पढ़ें : अर्जुन कपूर जीवनी

विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर :

सचिन तेंदुलकर भारत ही नहीं बल्कि विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में गिने जाते है ! उन्होंने ऐसे ऐसे वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाए है , जिसने उन्हें दुनिया में अलग पहचान दिलाई है ! अगर हम सचिन तेंदुलकर की बात करें तो वो एक मध्यम वर्ग परिवार में पैदा हुआ,

उन्होंने अपनी पढाई मुंबई के शारदाश्रम विश्वविद्यालय से पूरी की ! क्रिकेट में आगे बढ़ने के लिए सचिन के बड़े भाई अजित तेंदुलकर ने इनका साथ दिया और उनकी प्रतिभा को पहचान कर उनका मार्गदर्शन भी किया !

इनके पिता ने क्रिकेट को मध्य नजर रखते हुए सचिन तेंदुलकर का एडमिशन क्रिकेट के ‘द्रोणाचार्य’ कहे जाने वाले रमाकांत आचरेकर की अकादमी में करवा दिया !

वहां रहे कर सचिन ने अपनी प्रतिभा को व्यापक रूप दिया ! उसके बाद वो तेज गेंदबाजी सिखने के लिए M.R.F. Foundation के कैंप में गये , वहां उन्हें कोच डेनिस लिली मिले उन्होंने उन्हें बल्लेबाज़ी पर ध्यान देने के लिए कहा और उनकी बात मानकर सचिन अच्छे बल्लेबाज़ बनने की तैयारी में लग गये !

बताते है की रमेश आचरेकर जो की सचिन के कोच थे उनका प्रैक्टिस करने का तरीका बहहुत अलग था वो विकेट के नीचे एक रु  का सिक्का रख देते थे और जो गेंदबाज़ सचिन को आउट क्र देता था वो सिक्का उसका हो जाता नहीं तो वो सिक्का सचिन का हो जाता और इसी प्रकार सचिन तेंदुलकर ने अपने कोच से १३ सिक्के सीते जो की अभी भी उनके पास ही है !

इसे भी पढ़ें : अमरीश पुरी जीवनी

इसके बाद उन्होंने  हारेस शील्ड मुकाबले में ६६४ रन बनाये विनोद काम्बली की पत्र्नेर्शिप के साथ ! इतने शानदार प्रेदेर्शन के बाद सामने वाली तेअस्म में आधे मटक ह में ही हार मान ली और खेलना बंद कर दिया ! इस शानदार प्रस्तुति के बाद सचिन तेंदुलकर काफी फेमस हो गये

टीम इंडिया के साथ खेलने का मौका : 

सचिन को 16 साल की उम्र में ही टीम इंडिया के साथ खेलने का मौका मिल गया ! और उन्होंने अपनी लाजवाब बेटिंग से सबका दिल जीत लिया ! १९९० में इंग्लैंड में हुए क्रिकेट टेस्ट मैच के दौरान उन्होंने ११९ रन बनाए और नाबाद रहे, यह उनका पहला शतक था !

इसके बाद दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के लिए भी उनका एड्स ही प्रदर्शन रहा और उन्होंने कई शतक लगाए ! और उनकी इस शानदार प्रतिभा को देखते हुए उन्हें डॉन ब्रेडमैन की उपाधि दी गयी ! साथ ही उन्हें टीम इंडिया का कप्तान भी बनाया गया !लेकीन इससे उनका खुद का खेल प्रभावित होने लगा और उन्होंने खुद ही वो पद छोड़ दिया !

सन २००५-०६ उनके ही बहुत मुश्किलों में रहा क्यों की उस समय में उनके टेनिस एब्लो और कंधो में दर्द रहने लगा , जिससे वो खेलने में भी सक्षम नहीं हो पा रहे थे ! लेकीन इन सब के बावजूद २००८ में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में रनों का ढेर लगा लिया औरएक बार फिर से खुद को साबित किया !

इसे भी पढ़ें : कमल हासन जीवनी

वन – डे से संन्यास :

अंत में २३ दिसम्बर २०१२ को उन्होंने वन—डे से संन्यास ले लिया !और 16 नवम्बर १०१३ को टेस्ट मैच से भी संयाद=स ले लिया ! सचिन तेंदुलकर ने अपने कैरियर में २०० टेस्ट मैच में कुल १५२९१ रन बनाए ! इसके साथ उन्होंजे ५१ शतक और ६८ अर्धशतक अपने नाम किये ! उन्होंने ४६ विकेट लिए, और ४६४ वन –डे मैच में कुछ १८४२६ रन बनाए और ४९ शतक व ९६ अर्धशतक बनाए !

इतनी सारी उपलब्धियों के बाद सचिन तेंदुलकर को दुनिया भर से बेंतहा प्यार मिला , और एक लीजेंड खिलाडी होने के बावजूद उन्होंने कभी इस बात पर घमंड नहीं किया ! और हमेशा सरल विचारों वाले इन्सान रहे !और शयद यही एक खूबी होती है जो इन्सान को सफल बनाती है !

इसे भी पढ़ें : सोनम कपूर जीवनी

भरत रत्न पाने वाले पहले भारतीय खिलाडी :

सचिन तेंदुलकर भरत रत्न पाने वाले पहले भारतीय खिलाडी थे ,जिन्होंने सबसे कम उम्र में इस अवार्ड को पाया था !इसके साथ ही सचिन तेंदुलकर को पद्म भूषण से भी सम्मानित किया जा चूका हिया वो २००८ में इस पद से सम्मानित किये गये थे ! इसके अलावा सचिन तेंदुलकर को और भी कई अवार्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है ! जो निम्न है :-

भारत रत्न – २०१४

पद्म भूषण – २००८

पद्म श्री – १९९९

महाराष्ट्र भूषण – २००१

अर्जुन पुरूस्कार – १९९४

राजीव गाँधी खेल रतन पुरूस्कार – १९९७-९८

ज़डन क्रिकेटर ऑफ द ईयर पुरूस्कार – 1998

विजडन लीडिंग क्रिकेटर ऑफ़ द इयर – २०१०

प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट – २००३

सचिन तेंदुलकर का विवाह :

इस प्रकार सचिन तेंदुलकर को कई सारे अवार्ड मिले ! आज उन्हें लिटिल मास्टर और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के नाम से जाना जाता है ! सचिन तेंदुलकर का पारिवारिक जीवन भी बहुत अच्छा चल रहा है ! उनका विवाह १९९४ में अंजलि तेंदुलकर से हुआ उनके दो बच्चे है , सारा और अर्जुन !

क्रिकेट का भगवान सचिन :

सचिन का होटल का बिज़नस भी है जो उन्ही के नाम पर है ! इसके अलावा वो एक “अपनायल” नाम की संस्था भी चलाते है जो हर साल 200 बच्चो का पालन पोषण करती है ! सचिन तेंदुलकर ने भारत और क्रिकेट का नाम पुरे विश्व में रोशन किया और आज महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान् कहा जाता है !

Sachin Tendulkar Biography Video 

Read More:

इसे भी पढ़ें : अटल बिहारी वाजपेयी जीवनी

इसे भी पढ़ें : सिद्धार्थ मल्‍होत्रा जीवनी

इसे भी पढ़ें : महात्मा गाँधी का भारत छोड़ो आंदोलन पर भाषण

इसे भी पढ़ें : अभिनेता संजय दत्त की जीवनी

इसे भी पढ़ें : चंद्रशेखर आजाद का जीवन परिचय 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.